16 August का रहस्यमयी पंचांग: आज के शुभ समय और उपाय हैरान कर देंगे आपको!

आज अधिक मास के अंतिम दिन पर मनाई जाएगी अमावस्या, जिसे श्रावण कृष्ण अमावस्या कहा जाता है। इस दिन पितरों की पूजा करना शुभ माना गया है। यहाँ हम आपको आज के शुभ मुहूर्त और योग की जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

आज का पंचांग – 16 अगस्त 2023, बुधवार: राष्ट्रीय मिति – श्रावण 25, शक संवत 1945 द्वितीय (अधिक) श्रावण कृष्ण अमावस्या, बुधवार, विक्रम संवत 2080। सौर श्रावण मास का प्रवेश हुआ है। मुहर्रम 28, हिजरी 1445 (मुस्लिम) के अनुसार आज की तारीख 16 अगस्त सन् 2023 ई॰ है। आज सूर्य दक्षिणायन में है, जिसका मतलब उत्तर गोल, वर्षा ऋतु का आगमन हुआ है। राहुकाल मध्याह्न 12 बजे से 01 बजकर 30 मिनट तक चलेगा। अमावस्या तिथि अपराह्न 03 बजकर 08 मिनट तक रहेगी, जिसके बाद प्रतिपदा तिथि आरंभ होगी।

आश्लेषा नक्षत्र सायं 04 बजकर 57 मिनट तक चलेगा, उसके बाद मघा नक्षत्र का आरंभ होगा। वरीयान योग सायं 06 बजकर 30 मिनट तक चलेगा, फिर परिधि योग का आगमन होगा। नाग करण अपराह्न 03 बजकर 08 मिनट तक चलेगा, उसके बाद बव करण आरंभ होगा। चंद्रमा सायं 04 बजकर 57 मिनट तक कर्क राशि से निकलकर सिंह राशि में प्रवृत्त होगा।

आज अधिक (मल) मास के अंतिम दिन का विशेष महत्व है। आज के व्रत और त्योहारों में विशेष ध्यान देने की सलाह दी जाती है। सूर्योदय का समय आज सुबह 5 बजकर 50 मिनट पर होगा और सूर्यास्त का समय शाम 7 बजे को होगा।

आज के शुभ मुहूर्त – 16 अगस्त 2023:

  • ब्रह्म मुहूर्त: सुबह 4 बजकर 24 मिनट से 5 बजकर 7 मिनट तक
  • विजय मुहूर्त: दोपहर 2 बजकर 37 मिनट से 3 बजकर 29 मिनट तक
  • निशिथ काल: मध्यरात्रि 12 बजकर 4 मिनट से 12 बजकर 47 मिनट तक
  • गोधूलि बेला: सुबह 7 बजे से 7 बजकर 22 मिनट तक
  • अमृत काल: सुबह 5 बजकर 50 मिनट से 7 बजकर 29 मिनट तक

आज के अशुभ मुहूर्त – 16 अगस्त 2023:

  • राहुकाल: सुबह 12 बजे से 1 बजकर 30 मिनट तक, और सुबह 7 बजकर 30 मिनट से 9 बजे तक
  • यमगंड: सुबह 10 बजकर 30 मिनट से 12 बजे तक
  • गुलिक काल: सुबह 11 बजकर 59 मिनट से 12 बजकर 52 मिनट तक
  • दुर्मुहूर्त: सुबह 9 बजकर 30 मिनट से 10 बजकर 30 मिनट तक

आज का उपाय: आज गणेशजी के लिए मोदक का भोग लगाएं और साबुत मूंग की दाल किसी गरीब को दान में दें।

इस प्रकार के रूपरेखा के माध्यम से हमने आपको आज के पंचांग की महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है। यह पंचांग आपके दैनिक जीवन में शुभ कार्यों की योजना बनाने में मदद कर सकता है।

How to create a WhatsApp Channel: A step-by-step guide WhatsApp Channels: 5 things to know about the new tool Gadar 2